Saturday, August 20, 2011

Gandhi to Sonia

एक दिन सोनिया गांधी के सपने में महात्मा गांधीजी आकर बोले, "मैने मरते समय कॉंग्रेस को सादगी, ईमानदारी, टोपी, चश्मा और डंडा दिया था, कहॉं है वो?" सोनिया ने अत्यंत विनम्रतासे कहा, "टोपी तो राहुल लोगोंको पहना रहा है. सादगी मेरे और प्रियंका के पास है. चश्मा मनमोहन के पास है. ईमानदारी स्विस और ईटली के बैंक में सेफ है और डंडा आम आदमी की सेवा में लगा रखा है.

1 comment:

Anonymous said...

namaskaar dheeraj mahoday
aapne bahut hi sundar vyangya kiya hai, vastvikta yahee hai is desh ki sabhi ise lootane ke liye hi baithe hai aur aam admi lut raha hai,
bhupendra pandey